19 June 2019 05:09 AM

Search
English

जहांगीर अली | 2 JUNE, 2019

राफ्टिंग एजेंट रउफ डार ने 5 पर्यटकों को डूबने से बचाया, खुद डूबा

अपने पेशेवर कर्तव्यों को निभाने के लिए रउफ की चौतरफा प्रशंसा


एक कश्मीरी एडवेंचर स्पोर्ट्स एजेंट के साहस की चौतरफा प्रशंसा हो रही है. उस एजेंट ने पहलगाम टूरिस्ट रिसोर्ट में लिद्दर नदी की उफनती धारा में पांच पर्यटकों को डूबने से बचाया. हालांकि, इस क्रम में उक्त नवविवाहित एजेंट रउफ डार खुद डूब गया.

नौकायन या राफ्टिंग कश्मीर का एक लोकप्रिय साहसिक खेल है. बादल फटने से नदी के जल – स्तर में अचानक उफान आया और पानी का तेज बहाव पांच पर्यटकों समेत रउफ डार की नौका को अपने साथ बहा ले गया. एक अनुभवी तैराक होने के नाते रउफ पर्यटकों को बचाने और उनमें से प्रत्येक को किनारे पर लाने में कामयाब रहा.

अनंतनाग के उपायुक्त खालिद जहांगीर ने बताया, “हालांकि वह खुद पानी की तेज धारा में बह गया. जिला प्रशासन, आपदा प्रबंधन विभाग और सुरक्षा बलों द्वारा रात भर चलाये गये बचाव अभियान के बावजूद उसका पता नहीं लगाया जा सका था. लेकिन आज सुबह भवानी पुल के निकट नदी से उसकी लाश बरामद की गयी.”

अपनी निजी सुरक्षा की चिंता न करते हुए अपने पेशेवर कर्तव्यों को निभाने के लिए रउफ की सोशल मीडिया और घाटी में खूब प्रशंसा हुई है. ‘कश्मीरियत’ की भावना, जोकि घाटी की खासियत रही है, को सलाम किया जा रहा है. राज्य प्रशासन की भी त्वरित प्रतिक्रिया और तत्परता के लिए सराहना की जा रही है.

पहलगाम के एक होटल में काम करने वाले रमीज अशरफ ने फेसबुक पर लिखा, “यही कश्मीरियत की सच्ची भावना है. रउफ तैरकर सुरक्षित बच सकता था लेकिन उसने वही चुना, जो वास्तव में सही था. उसने उनलोगों को बचाया जो अपनी जिंदगी की सुरक्षा के लिए उसके भरोसे थे. ऐ बहादुर शख्स ! तुम्हारी आत्मा को शांति मिले. तुम्हारा बलिदान प्रेरणादायक है.”

राज्यपाल के सलाहकार खुर्शीद अहमद गनाई, जिनके पास पर्यटन मंत्रालय का प्रभार है, ने कहा कि रउफ को मरणोपरांत सम्मानित किया जायेगा. उसके साहसिक कार्य की प्रशंसा करते हुए श्री गनाई ने कहा कि उसके परिवार को मुआवजा प्रदान किया जायेगा.

श्री गनाई ने कहा, “यह एक सराहनीय कार्य है. इस किस्म की त्रासदी की स्थिति में, कुछ ही लोग इस तरह का निर्णय कर पाते हैं. राज्य प्रशासन पर्यटकों को बचाने के लिए इस बहादुर आदमी का ऋणी है और हम यह सुनिश्चित करेंगे कि उसका यह बलिदान व्यर्थ न जाये.”

इस बीच रउफ, जिसकी हाल ही में शादी हुई थी, की मौत की खबर फैलते ही उसके पैतृक गाँव येनाड में मातम छा गया.

सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो में रउफ की बहन उसके मृत शरीर को गले लगाकर यह पूछती हुई दिखाई देती है कि "किसके लिए तुमने हमें यहां छोड़ दिया है, मेरे भाई." उसके पिता पहलगाम में एक होटल में प्रबंधक के रूप में काम करते हैं.

राफ्टिंग पहलगाम के सबसे लोकप्रिय साहसिक खेलों में से एक है. वहां खूबसूरत कोलाहोई ग्लेशियर से निकलने वाली लिद्दर नदी इस खेल के लिए एक आदर्श वातावरण मुहैया कराती है.

न्यूज़ सरोवर


संबंधित


नागरिक द सिटीजन को स्वतंत्र रखते है सहयोग करें !