20 June 2019 10:36 AM

Search
English

जहांगीर अली | 24 JANUARY, 2019

प्रधानमंत्री के कश्मीर दौरे पर क्षेत्रीय दलों का सवाल

जम्मू के लिए 36 हजार करोड़ और कश्मीर के लिए 9 हजार करोड़ रूपए की परियोजनाएं


अब जबकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पीडीपी – भाजपा गठबंधन सरकार के पतन के बाद कश्मीर घाटी का पहला दौरा करने वाले हैं, क्षेत्रीय दल राज्य के विकास के लिए दिये गये केंद्र के पैकेज के भेदभावपूर्ण अमल पर तीखा विरोध जता रहे हैं.

पीडीपी – भाजपा गठबंधन सरकार के शिल्पकार और भाजपा के महासचिव राम माधव के मुताबिक, श्री मोदी जम्मू क्षेत्र के लिए 36 हजार करोड़ रूपए की लागत की और कश्मीर घाटी के लिए 9 हजार करोड़ रूपए की लागत की परियोजनाओं का उदघाटन करेंगे.

ये परियोजनाएं जम्मू – कश्मीर के लिए दिये गये 80068 करोड़ रूपए के प्रधानमंत्री विकास पैकेज का हिस्सा हैं. इस पैकेज की घोषणा श्री मोदी ने 2015 में अपने श्रीनगर दौरे के दौरान की थीं.

प्रधानमंत्री के कश्मीर दौरे की घोषणा नेशनल कांफ्रेंस और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी समेत कश्मीर केन्द्रित पार्टियों को रास नहीं आयी है. उन्होंने केंद्र सरकार पर घाटी के खिलाफ भेदभाव बरतने का आरोप लगाया है.

नेशनल कांफ्रेंस के वरिष्ठ नेता अली मोहम्मद सागर ने द सिटिज़न को बताया, “भाजपा सरकार द्वारा जम्मू क्षेत्र में अपना राजनीतिक हित साधने के लिए स्वाभाविक रूप से कश्मीर को नजरअंदाज किया जा रहा है. इससे राज्य के सभी तीनों क्षेत्रों का समान रूप से विकास करने के केंद्र सरकार के झूठे दावे का पर्दाफाश होता है.”

आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, प्रधानमंत्री आगामी 3 फरवरी को राज्य के जम्मू , कश्मीर एवं लद्दाख क्षेत्र का दौरा करेंगे. इस दौरे में वे श्रीनगर में डल झील के किनारे स्थित एसकेआईसीसी में आयोजित नवनिर्वाचित पंचों एवं सरपंचों की एक बैठक को संबोधित करेंगे.

श्री माधव की घोषणा पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष जी. ए. मीर ने कहा कि भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने राज्य के समावेशी विकास के “खोखले वादों” के जरिए घाटी के लोगों को “निराश” किया है.

श्री मीर ने कहा, “यह श्री माधव द्वारा अपने ही पाले में गोल दागने जैसा है. उनकी पार्टी यह दावा करती रही है कि राज्य के तीनों क्षेत्रों के विकास की जरूरतों के लिए बराबर धन और ध्यान दिया जायेगा. उनकी पार्टी का जम्मू क्षेत्र में आधार खिसक रहा है. इसलिए उसने वोटरों को लुभाने के लिए पैकेज का इस्तेमाल किया है.”

कम्युनिस्ट पार्टी के नेता मुहम्मद यूसुफ़ तरिगामी ने कहा कि भाजपा जम्मू के लोगों के साथ नौटंकी कर रही है. उन्होंने कहा, “अब जबकि आम चुनाव सामने है, 2014 में लोगों से किये गये तमाम वादे धरे रह गये. जम्मू के लोग भाजपा से खुश नहीं हैं, लेकिन वो यह संदेश देने का प्रयास कर रही है कि उसे जम्मू की परवाह है. वे लोगों को एकबार बेवकूफ बना सकते हैं, लेकिन हमेशा नहीं.”

श्री माधव के अनुसार, अपने दौरे के दौरान प्रधानमंत्री मोदी जम्मू में एम्स, आईआईएम, आईआईटी, अखनूर रोड, शाहपुर – कंडी रोड, सुंदरबनी कॉलेज और आईआईएमसी की आधारशिला रखेंगे. प्रधानमंत्री कठुआ में एक इंजीनियरिंग कॉलेज और जम्मू रोप – वे परियोजना का भी उदघाटन करेंगे. वे जम्मू में एक रैली को भी संबोधित करेंगे

प्रधानमंत्री का यह दौरा कश्मीर में सुरक्षा बलों द्वारा आतंकवादियों के खिलाफ बड़े पैमाने पर चल रही कार्रवाई के बीच हो रहा है. पिछले दो दिनों में सेना के साथ मुठभेड़ में पूर्वोत्तर राज्य में तैनात एक कश्मीरी अधिकारी के भाई समेत छह आतंकवादियों के मारे जाने के साथ घाटी में माहौल गरम हो गया है.
 

न्यूज़ सरोवर


संबंधित


नागरिक द सिटीजन को स्वतंत्र रखते है सहयोग करें !